Poetry

परवाज़

  चाँद रखना धीरे से क़दम कुछ लोग अभी ही सोए हैं कुर्बान करके अपनी ही नींद जिन्होंने लाखों ख़्वाब बोए हैं उस रात के शोर में तुमने क्या ख़ामोशी की आवाज़ सुनी? कफ़स जो सारे बिखर गए हैं क्या उनकी अनसुनी फ़रियाद सुनी? ऐ चाँद तू अब ग़ुरूर न कर ये रात अब तेरी… Continue reading परवाज़

News, Report, The Political Express

THIS IS JUST A BEGINING.

On 19 March 2018, Jamia Girls Hostel's students chronicled a new chapter of student struggle in the campus, and set another example of Student Unity. The University rejoiced with celebration when the administration agreed on the demands of the students of both the hostels and extended curfew timings to 10:30 PM, among other accessibilities. The… Continue reading THIS IS JUST A BEGINING.